बाढ़ पूर्वानुमान | जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय | भारत सरकार

You are here

मुख्‍य पृष्‍ठ स्‍कीम कार्यक्रम परियोजना स्‍कीम बाढ़ पूर्वानुमान

बाढ़ पूर्वानुमान

बाढ़ पूर्वानुमान को बाढ़ प्रबंधन का सर्वाधिक महत्वपूर्ण, विश्वसनीय और किफायती गैर-ढा़ंचागत उपाय माना गया है। इसकी महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए केन्द्रीय जल आयोग, जल संसाधन मंत्रालय ने सभी महत्वपूर्ण बाढ़ प्रवण अंतर-राज्यीय नदियों को कवर करते हुए पूर्वानुमान केन्द्रों का एक नेटवर्क स्थापित किया है। इन स्टेशनों से जारी पूर्वानुमान से स्थानीय प्रशासन को बाढ़ के मौसम के दौरान लोगों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने जैसे उपयुक्त प्रशासनिक उपाय करने और परियोजना प्राधिकारियों को जलाशयों का समुचित संचालन करने में सहायता मिलती है। 2016 में बाढ़ के मौसम में 6239 बाढ़/जल के अर्न्तवाह के बारे में पूर्वानुमान जारी किए गए जिसमें से 5948 पूर्वानुमानों को सटीकता की अनुमत्य सीमा के भीतर पाया गया। सटीकता का समग्र प्रतिशत 95.34 प्रतिशत है। दिसम्बर, 2016 में बरदा चक्रवात के दौरान उचित एडवाइजरी जारी की गई थी।

भारत में बाढ़ पूर्वानुमान का कार्य सीडब्ल्यूसी द्वारा प्रमुख नदियों तथा उनकी महत्वपूर्ण सहायक नदियों हेतु निष्पादित किया जाता है। इस प्रयोजनार्थ सीडब्ल्यूसी देश में 199 स्टेशनों (151 स्तर पूर्वानुमान, 48 अंतर्वाह पूर्वानुमान) पर बाढ़ पूर्वानुमान जारी करता है। सीडब्ल्यूसी ने आपदा प्रबंधकों को तैयारी हेतु पर्याप्त लीड टाइम देने के लिए आईएमडी की वर्षा का जल बहने के प्रतिरूपण तथा वर्षा पूर्वानुमान का प्रयोग करते हुए कुछ स्थानों पर तीन दिवसीय परामर्शी पूर्वानुमान देना शुरू किया है। सीडब्ल्यूसी द्वारा जारी पूर्वानुमान प्राधिकारियों द्वारा समय पर की गई कार्रवाई के फलस्वरूप जानमाल की रक्षा करने में काफी उपयोगी साबित हुआ है।

बाढ़ पूर्वानुमान, आधुनिकीकरण और विस्तार के लिए बारहवीं योजना में रुपए 281.00 करोड़ के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया है।

क्रमांक . राज्‍य/संघ प्रदेश का नाम बाढ़ पूर्वानुमान स्‍टेशनों की संख्‍या
स्‍तर अन्‍तवहि कुल
1 आंध्र पदेश 4 8 12
2 अरूणाचल प्रदेश 1 0 1
3 असम 25 0 25
4 बिहार 32 0 32
5 छत्‍तीसगढ़ 1 0 1
6 गुजरात 6 5 11
7 हरियाणा 0 1 1
8 जम्‍मू और कश्‍मीर 1 0 1
9 झारखंड 2 5 7
10 कर्नाटक 1 7 8
11 मध्‍य प्रदेश 2 2 4
12 महाराष्‍ट्र 7 3 10
13 ओडिशा 11 1 12
14 राजस्‍थान 0 1 1
15 तमिल नाडु 0 5 5
16 तेलंगाना 5 5 10
17 त्रिपुरा 2 0 2
18 उत्‍तर प्रदेश 34 2 36
19 उत्तराखंड 3 0 3
20 पश्चिम बंगाल 11 3 14
21 दादरा और नगर हवेली 1 0 1
22 राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र, दिल्‍ली 2 0 2
  कुल 151 48 199